हिंदी का फोरम
 
HomeHome  GalleryGallery  FAQFAQ  SearchSearch  RegisterRegister  Log inLog in  
खान हिंदी फोरम में आप सभी का स्वागत है|

Share | 
 

 जॉब चेंज करना

View previous topic View next topic Go down 
AuthorMessage
KC sharma
स्वागत प्रभारी
स्वागत प्रभारी


Posts : 67
Thanks : 5
Join date : 14.12.2010
Location : delhi

PostSubject: जॉब चेंज करना   Tue Dec 14, 2010 4:42 pm

जॉब चेंज करना कॅरियर में एक अहम पड़ाव होता है। प्राइवेट सेक्टर में बेहतर मौके मिलने पर आपको ये कदम उठाना ही पड़ता है। अगर आप ऐसा पहली बार कर रहे हैं तो इस हालत में थोड़ा परेशान होना स्वाभाविक है। पुरानी जगह इस्तीफा देने के बाद नई जगह पर जाकर काम करने के बीच के समय को नोटिस पीरियड कहते हैं। इस्तीफा देने के साथ ही आपका नोटिस पीरियड चालू हो जाता है। ये समय काफी महत्वपूर्ण होता है, इसलिए कोशिश करें कि जहां आपने कुछ समय तक काम किया है, वहां से आप एक गरिमा के साथ विदाई लें।
अगर आप कांट्रैक्ट के मुताबिक नोटिस पीरियड में काम करना नहीं चाहते और इससे पहले ही आप नई जगह ज्वाइन कर रहे हैं तो आपको सावधानी से काम लेने की जरूरत है। आमतौर पर इस स्थिति में पुरानी कंपनी आपकी नोटिस पीरियड की सैलरी कट कर सकती है। हालांकि दो उपाय ऐसे हैं जिन्हें अपनाकर आप इस स्थिति से बच सकते हैं। अगर आपके बॉस और एचआर से बेहतर संबंध हैं तो उन्हें अपनी स्थिति बताएं जिससे कि नोटिस पीरियड के दौरान आपकी सैलरी काटी न जाए। आमतौर पर कोई भी कंपनी अपने पुराने या बेहतर कर्मचारी के लिए नियमों को एडजस्ट कर लेती है।
दूसरा रास्ता यह है कि अगर नई कंपनी पहले ही दिन से आपको सैलरी देने के लिए तैयार है तो आप पुरानी कंपनी से सैलरी कट होने का नुकसान आसानी से ङोल सकते हैं। जहां तक छुट्टियों का सवाल है तो आप नोटिस पीरियड के दौरान अपनी सारी बाकी छुट्टियां कवर कर सकते हैं। इन सबके बीच यह याद रखें कि नोटिस पीरियड के दौरान भले ही आप छुट्टी पर क्यों न हों, जब तक आपको पुरानी कंपनी से रिलीविंग लेटर नहीं मिल जाता, आप नई जगह ज्वाइन नहीं कर सकते। ये भी याद रखें कि नोटिस पीरियड के दौरान आपको आखिरी महीने की सैलरी स्लिप तो मिलेगी ही, साथ ही आपका बाकी क्लेम भी क्लीयर किया जाएगा। इसलिए इसे लेकर एचआर से जरूर स्पष्ट बात कर लें। एक और महत्वपूर्ण बात यह है कि संभव है, उस कंपनी में
आपको दोबारा काम करने का मौका मिले इसलिए जहां तक संभव हो, उससे रिश्ते बिगाड़ कर न जाएं।

livehindustan.com se
Back to top Go down
 

जॉब चेंज करना

View previous topic View next topic Back to top 
Page 1 of 1

Permissions in this forum:You cannot reply to topics in this forum
Khan Hindi Forum :: साहित्य और रोचक जानकारी :: ज्ञान की बाते-
Jump to: