हिंदी का फोरम
 
HomeHome  GalleryGallery  FAQFAQ  SearchSearch  RegisterRegister  Log inLog in  
खान हिंदी फोरम में आप सभी का स्वागत है|

Share | 
 

 रोचक खबरें

View previous topic View next topic Go down 
AuthorMessage
khan
प्रधान नियामक
प्रधान नियामक


Posts : 462
Thanks : 8
Join date : 14.12.2010

PostSubject: Re: रोचक खबरें   Sun Dec 19, 2010 4:42 pm

उसे हर डेढ़ माह बाद डसने आता है सांप
देवसी बारड Monday, October 12, 2009 06:46 [IST]

अहमदाबाद. गुजरात के भावनगर जिले में गढडा तहसील में स्थित इतरिया गांव में एक अजीबोगरीब मामला प्रकाश में आया है। यह वाकया हिंदी फिल्म की नाग-नागिन की पटकथा को मात देने वाला है। विवाहित ममता बहन (24) को डेढ़ दो महीने के अंतराल पर सर्पदंश की पीड़ा झेलनी पड़ती है। सांप के आंखों में मनुष्य की तस्वीर अंकित होने जैसी यह दंतकथा नहीं है बल्कि सत्यपरक है।

इसे अंधश्रद्धा से भी नहीं जोड़कर देखा जा सकता, क्योंकि भीड़-भाड़ में सबके नजरों के सामने ममता बहन को सांप दंश मारकर चला जाता है। विवाह के बाद पिछले आठ सालों में ममता बहन को पच्चीस बार सांप ने डसा। पिछले दशहरा के दिन सांप के दंश के बाद ममता बहन ने सात दिनों तक आंख नहीं खोली। अक्सर देखा जाता है कि किसी व्यक्ति को जब सांप काटता है तो वह चर्चा का विषय बन जाता है लेकिन ममता बहन को सांप नहीं काटता है तो गांव में इस मुद्दे को लेकर चर्चा आरंभ हो जाती है।

विवाह के बाद सांप ने बढ़ाई चिंता : वर्ष 2001 में ममता बहन की शादी इतरिया गांव निवासी भीमजीभाई के साथ हुई थी। इस दंपती को दो संतानें हैं। विवाह के बाद जैसे ममता बहन से सांप का नाता ही जुड़ गया। दो महीने नहीं बीत पाता है कि ममता को कोई न कोई सांप जरूर काट लेता है। सबसे आश्चर्य की बात तो यह है कि भीड़ में भी ममता को ही सांप काटता है। ममता का कहना है कि पहले सांप साल में दो बार काटता था, लेकिन अब डेढ़ से दो महीने में काट लेता है। परिजनों के साथ रहने पर भी मुझे ही सांप ना जाने क्यों काटता है।

सकते में हैं चिकित्सक व सांप विशेषज्ञ : ममता बहन की घटना से चिकित्सक व सांप विशेषज्ञ दोनों सकते में आ गए हैं। ममता को सांप दो बार दंश मारता है। तीन सेकंड तक फुफकार कर उसके सामने देखता है। बाद में वहां से चला जाता है। भीमजीभाई ने बताया कि राजकोट व भावनगर के अस्पतालों में इसकी जांच करवाई। रक्त के नमूने भी परीक्षण करवाए लेकिन चिकित्सक इसका राज नहीं जान सके।

सहजता से लेते हैं परिजन : सांप काटने की घटना को ममता के परिजन अब सहजता से लेने लगे हैं। सांप काटने के बाद ममता को गांव के समीप स्थित गढ़ेश्वर महादेव मंदिर में ले जाया जाता है। दो दिन तक मुर्छित रहने के बाद सब कुछ पूर्ववत हो जाता है। सांप के दंश के कारण ममता बहन के हाथ और पैर में अनेक दाग पड़ गए हैं। गांव के अग्रणी अरविंद वनालिया का कहना है कि सांप की घटना अब हमारे लिए सामान्य बात हो गई है। सांप काटने की घटना सुनने के बाद हम समझ जाते हैं कि ममता को कुछ नहीं होने वाला है।

ऐसा भी हो सकता है..

सांपों के जानकार धर्मेद्र त्रिवेदी का कहना है कि ऐसा भी हो सकता है कि ममता को काटने वाला सांप जहरीला ना हो लेकिन यह एक शोध का विषय है। संभव है कि ममता बहन को बार-बार बगैर जहरवाला सांप काटता हो। लेकिन यह भी हो सकता है कि उसके शरीर में ऐसा कोई तत्व निहित हो जो सांप के जहर को निष्क्रिय बना देता होगा


भास्कर से
Back to top Go down
khan
प्रधान नियामक
प्रधान नियामक


Posts : 462
Thanks : 8
Join date : 14.12.2010

PostSubject: कुएं में गिरने के बाद भी बच गया बच्चा   Sun Jan 16, 2011 1:30 pm

बीजिंग। कुदरत का खेल भी निराला है। कभी जरा सी खरोंच लगने पर इंसान की जान चली जाती है तो कभी हजारों फीट की ऊंचाई से गिरने के बावजूद बाल भी बांका नहीं होता। चीन में एक चार साल का बच्चा 30 फीट गहरे कुएं में गिरने के दो दिन बाद भी जिंदा बच गया।

युन्नान प्रांत के चेंगचोंग शहर में चार वर्षीय डेंग रुई को उसके दादा-दादी घर पर छोड़कर बाहर किसी काम से गए थे। वापस आने पर डेंग गायब था। यह जानकर उनके होश उड़ गए। उन्होंने पुलिस को इसकी सूचना दी। पुलिस ने दो दिन तक पूरे शहर की छानबीन कर डाली, लेकिन बच्चे का कुछ पता नहीं लगा। बाद में पड़ोसियों ने सलाह दी कि बच्चे को पास में मौजूद एक बंद पड़े कारखाने में ढूंढ़ना चाहिए।

दरअसल, कारखाने के परिसर में कई सूखे कुएं थे। उन लोगों ने प्रत्येक कुएं के पास जाकर बच्चे को आवाज लगाई। फिर एक कुएं में से बच्चे के चिल्लाने की धीमी सी आवाज आई। उसके बाद बचावकर्मियों को बुलाया गया। बच्चे को बाहर निकालने में तीन घंटे लग गए। उसने बताया कि वो वहां पर खेलने गया था लेकिन उसका पांव फिसल गया और कुएं में गिर गया। मदद के लिए उसने बहुत आवाज दी लेकिन किसी ने नहीं सुना।

आश्चर्य की बात यह थी कि दो दिन तक कुएं में रहने के बावजूद बच्चा स्वस्थ था। बस उसके चेहरे पर कुछ खरोंच आई थीं। जब उससे पूछा गया कि उसे अंधेरे में डर नहीं लगा? तो उसने बताया कि कुएं में एक बिल्ली भी उसके साथ थी। यह बिल्ली पहले से ही कुएं में थी। बच्चे के बाद बिल्ली को भी निकाला गया।




in.jagran.yahoo.com/news/oddnews/general/15_35_3333.html
Back to top Go down
khan
प्रधान नियामक
प्रधान नियामक


Posts : 462
Thanks : 8
Join date : 14.12.2010

PostSubject: Re: रोचक खबरें   Sun Feb 13, 2011 9:33 pm

साबुन और वाशिंग पाउडर हैं उसके पसंदीदा व्यंजन!

लंदन। यह अजीबोगरीब मामला अमेरिका का है। फ्लोरिडा में टैंपसेट हैंडरसन नाम की एक 19 वर्षीया लड़की साबुन ऐसे खाती है मानो बर्गर हो। वह हफ्ते भर में कम से कम पांच साबुन और वाशिंग पाउडर डकार जाती है।

ब्रिटिश अखबार डेली मेल के अनुसार, इस लड़की को पिका नाम की एक दुर्लभ बीमारी है, जो शरीर में खनिज तत्वों की कमी से होती है। इसमें व्यक्ति को वे तमाम चीजें खाने का मन करता है जिनमें पोषण का कोई तत्व नहीं होता। जैसे साबुन, वाशिंग पाउडर, धातु के टुकडे़, सिक्के, चॉक, बैटरी, टूथब्रश आदि।

अखबार ने हैंडरसन के हवाले से लिखा, मुझे ध्यान है जब पहली बार मेरे हाथ में वाशिंग पाउडर पड़ा। मैंने थोड़ा सा मुंह में डाला तो यह नमकीन लगा और मुझे भाने लगा। मुझे नहाते वक्त साबुन के झाग बनाकर उसे चाटना अच्छा लगता है। जैसे ही साबुन गलना शुरू होता है, मैं उसका एक टुकड़ा मुंह में रखकर काफी देर तक चूसती हूं। मुझे इसमें बहुत मजा आता है। साबुन खाकर मुझे नहाने से भी ज्यादा साफ होने का अहसास होता है।

डॉक्टरों ने उसे इंटेंसिव कॉग्नीटिव बिहेवियरल थेरेपी दी है। इसमें उसके दिमाग से साबुन खाने का विचार हटाने की कोशिश की गई है। डॉक्टरों का कहना है कि भले ही पहली बार साबुन खाना उसे अच्छा लगा हो, लेकिन इसकी लत उसे अकेलेपन के चलते लगी। दरअसल उसका ब्वॉयफ्रेंड उसे छोड़कर दूसरे शहर में पढ़ाई करने चला गया था। उसके बाद तनाव और अकेलेपन को दूर करने के लिए किशोरी ने इन सब चीजों का सहारा लिया।



Feb 09, 01:34 pm in.jagran.yahoo.com/news/oddnews/general/15_35_3360.html
Back to top Go down
sagar
सदस्य
सदस्य
avatar

Posts : 37
Thanks : 0
Join date : 10.03.2011
Location : hindiforum.in/forum.php

PostSubject: Re: रोचक खबरें   Fri Apr 15, 2011 9:22 pm

खान भाई सूत्र को आगे बढाये !
Back to top Go down
khan
प्रधान नियामक
प्रधान नियामक


Posts : 462
Thanks : 8
Join date : 14.12.2010

PostSubject: Re: रोचक खबरें   Sat Feb 11, 2012 4:01 pm

इंसान के प्यार में पागल हुई 'नागिन', जिसने सुना चौंक गया!

मथुरा। 21वीं सदी में हम पूर्वजन्म में यकीन करें या ना करें, लेकिन यह खबर हमें सोचने पर मजबूर जरूर कर देती है। मथुरा के पास अगरयाला गांव है। यहां हर साल नागपंचमी का दिन कुछ खास होता है। यहां रहने वाले एक शख्स के पास एक नागिन आती है। उसके गले से लिपट जाती है। उसके साथ काफी देर तक रहती है। फिर गायब हो जाती है।


यहां लोगों के बीच ऐसी मान्यता है कि गांव में रहने वाला लक्ष्मण इस नागिन का पूर्व जन्म में पति था। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, नागिन युवक के घर आकर लिपट जाती है। इस अजूबे चमत्कार को देखने के लिए गांव में न केवल आसपास के लोगों का मेला लग जाता है, बल्कि दूर दराज से लोग अपनी मनोकामना पूरी करने के लिए गांव आते हैं। लक्ष्मण का जन्म अगरयाला गांव में शंकर महाशय के यहां हुआ था।

यह जब सात माह का था तो नागिन उसके सीने पर आकर बैठी थी। पर उसने काटा नहीं। बाद में उसका विवाह जब मथुरा के ही गांव मौरा में सूरजमल की पुत्री गंगा से हुआ तो नागिन उसे डसने लगी। नागिन ने उसे सात बार डसा पर वैद्य ने उसे ठीक कर दिया। तांत्रिकों से ढाक बजवाने पर पता चला कि नागिन पूर्व जन्म में लक्ष्मण की पत्नी थी।


प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, नागिन ने कहा कि वह लक्ष्मण के पास हमेशा रहना चाहती है, इसलिए गांव में एक मंदिर बनावाया जाए। यहां प्रत्येक नागपंचमी को नागिन लक्ष्मण से मिलने आया करेगी। पिछले आठ साल से वह नागपंचमी के एक दिन पहले आती है। अगले दिन वह चली जाती है



http://www.bhaskar.com/article/UP-story-of-true-love-2846744.html?HF-14=

Back to top Go down
Sponsored content




PostSubject: Re: रोचक खबरें   

Back to top Go down
 

रोचक खबरें

View previous topic View next topic Back to top 
Page 1 of 1

Permissions in this forum:You cannot reply to topics in this forum
Khan Hindi Forum :: साहित्य और रोचक जानकारी :: रोचक जानकारी-
Jump to: