हिंदी का फोरम
 
HomeHome  GalleryGallery  FAQFAQ  SearchSearch  RegisterRegister  Log inLog in  
खान हिंदी फोरम में आप सभी का स्वागत है|

Share | 
 

 मजेदार लतीफे, चुटकले

View previous topic View next topic Go down 
Go to page : Previous  1, 2, 3, 4  Next
AuthorMessage
pankaj bedrdi
प्रबन्धक
प्रबन्धक
avatar

Posts : 121
Thanks : 11
Join date : 28.12.2010
Age : 27
Location : siwan&chapra

PostSubject: Re: मजेदार लतीफे, चुटकले    Wed Dec 29, 2010 10:33 pm

एक लड़की की सुहागरात के अगले दिन उसकी सहेली ने पुछा " कैसी रही सुहागरात ?"

लड़की " कुछ खास नहीं "

सहेली " कुछ खास नहीं क्या मतलब ? बताना क्या हुआ ?"

लड़की " वो आये और कमरे की कुण्डी बंद कर ली "

सहेली " फिर क्या हुआ ?"

लड़की " फिर उन्होंने अपना कोट उतार कर खूँटी पर टांग दिया "

सहेली " फिर क्या हुआ ?"

लड़की " फिर उन्होंने अपनी पैंट भी उतार कर खूँटी पर टांग दी "

सहेली " फिर क्या हुआ ?"

लड़की " फिर उन्होंने अपनी शर्ट भी उतार कर खूँटी पर टांग दी "

सहेली " फिर क्या हुआ ?"

लड़की " फिर क्या हुआ जैसे ही उन्होंने अपनी बनियान उतार कर खूँटी पर टांगी, खूँटी टूट गयी और वो सारी रात उसको ही लगाते रहे "
Back to top Go down
pankaj bedrdi
प्रबन्धक
प्रबन्धक
avatar

Posts : 121
Thanks : 11
Join date : 28.12.2010
Age : 27
Location : siwan&chapra

PostSubject: Re: मजेदार लतीफे, चुटकले    Wed Dec 29, 2010 10:37 pm

एक टीचर बच्चों को अच्छी आदतों के बारे में बता रही थी। उसने एक बच्चे से पूछा, अगर गलती से तुम्हारा पैर एक वृद्ध महिला पर पड़ गया तो क्या करोगे?
बच्चा (टाइगर लव) : सॉरी बोलूँगा मैडम।
टीचर: बहुत अच्छा, अगर वह खुश होकर तुम्हें। चाकलेट दे तो फिर।
बच्चा (टाइगर लव) (तपाक से): दूसरे पैर पर चढ़ जाऊँगा ताकि एक और चाकलेट मिले।
Back to top Go down
pankaj bedrdi
प्रबन्धक
प्रबन्धक
avatar

Posts : 121
Thanks : 11
Join date : 28.12.2010
Age : 27
Location : siwan&chapra

PostSubject: Re: मजेदार लतीफे, चुटकले    Thu Dec 30, 2010 9:04 am

एक खूबसूरत लड़की(सुरभि) बस स्टाप पर खड़ी थी। वहां से गुजर रहे एक मनचले (खालिद) ने फब्तियां की............. चांद तो रात में निकलता है। फिर आज दिन में कैसे?
लड़की ने मुस्करा कर जवाब दिया।
उल्लू तो रात को बोलते हैं दिन में कैसे बोल रहा है।
Back to top Go down
pankaj bedrdi
प्रबन्धक
प्रबन्धक
avatar

Posts : 121
Thanks : 11
Join date : 28.12.2010
Age : 27
Location : siwan&chapra

PostSubject: Re: मजेदार लतीफे, चुटकले    Thu Dec 30, 2010 9:07 am

अमेरिका ने चोर का पता लगाने की एक मशीन बना ली और उसका खूब प्रचार किया कि ये मशीन चोरी करने के तरीके से ये बता सकती है कि चोर कौन हो सकता है. और भारत में भी उनके कुछ नुमाइंदे आकर उस मशीन का प्रचार कर रहे थे.

अमेरिकी नुमाइंदे " तो फिर कैसी लगी आपको मशीन इतने सारे प्रदर्शन देखकर ?"

भारतीय पुलिस अधिकारी " कोई फायदा नहीं है "

अमेरिकी नुमाइंदे " क्यों क्या बात है ? कोई कमी है मशीन में ?"

भारतीय पुलिस अधिकारी " नहीं ये बात नहीं है "

अमेरिकी नुमाइंदे " फिर क्या बात है ?"

भारतीय पुलिस अधिकारी " दर असल बात ये है कि हमारे पुलिस वाले तो चोरी का इलाका देखकर ही बता देते हैं कि चोरी किसने की होगी "
Back to top Go down
pankaj bedrdi
प्रबन्धक
प्रबन्धक
avatar

Posts : 121
Thanks : 11
Join date : 28.12.2010
Age : 27
Location : siwan&chapra

PostSubject: Re: मजेदार लतीफे, चुटकले    Thu Dec 30, 2010 9:09 am

गुल्लू जी - लड़कियां शराब से इतनी नफरत क्यों करती हैं?
यादव जी : क्योंकि शराब पीने के बाद उनके चूहे जैसे पति शेर जैसा बर्ताव करने लगते हैं।
Back to top Go down
pankaj bedrdi
प्रबन्धक
प्रबन्धक
avatar

Posts : 121
Thanks : 11
Join date : 28.12.2010
Age : 27
Location : siwan&chapra

PostSubject: Re: मजेदार लतीफे, चुटकले    Thu Dec 30, 2010 9:10 am

एक लड़की व्हिस्पर का पैकेट हाथ में लेकर बस स्टॉप पर खड़ी थी.

एक भिखारी " मैडम कुछ खाने को दे दो "

लड़की " मेरे पास खाने के लिए कुछ भी नहीं है "

भिखारी " ये ब्रैड का पैकेट ही दे दो "

लड़की " कल आना सोस लगा कर दूँगी "
Back to top Go down
pankaj bedrdi
प्रबन्धक
प्रबन्धक
avatar

Posts : 121
Thanks : 11
Join date : 28.12.2010
Age : 27
Location : siwan&chapra

PostSubject: Re: मजेदार लतीफे, चुटकले    Thu Dec 30, 2010 9:12 am

बकील ( अपराधी से) चाकू पर तुम्हारे उंगलियो के निशान पाऐ गये हैं। खून तुम् ने ही किया है। इस पर अपराधी बोला, बकील साहिब आप ऐसा कैसे कह सकते है कि चाकू पर मेरे उंगलियो के निशान पाऐ गये हैं? क्योकि खुन करते समय मैने तो दसताने पहन रखे थे!
Back to top Go down
pankaj bedrdi
प्रबन्धक
प्रबन्धक
avatar

Posts : 121
Thanks : 11
Join date : 28.12.2010
Age : 27
Location : siwan&chapra

PostSubject: Re: मजेदार लतीफे, चुटकले    Thu Dec 30, 2010 9:13 am

पत्नी, गुस्से मे पति महोदय पर बरसी- मै पूछती हूं कि ऐसा चोर नौकर क्यो रखा है?
पति- क्यो, क्या बात हो गई?
पत्नी- होना क्या था, आप परसों होटल से जो चांदी की प्लेट उठा लाए थे, वह इस ने गायब कर दी है।
Back to top Go down
pankaj bedrdi
प्रबन्धक
प्रबन्धक
avatar

Posts : 121
Thanks : 11
Join date : 28.12.2010
Age : 27
Location : siwan&chapra

PostSubject: Re: मजेदार लतीफे, चुटकले    Thu Dec 30, 2010 9:14 am

भोलू - पता है? पहले मैं बहुत आवारागर्दी किया करता था। क्या तुम
भी ऐसा ही करती थी?
प्रेमिका- अब बिना गुण मिले शादी थोड़े ही हो सकती है
Back to top Go down
pankaj bedrdi
प्रबन्धक
प्रबन्धक
avatar

Posts : 121
Thanks : 11
Join date : 28.12.2010
Age : 27
Location : siwan&chapra

PostSubject: Re: मजेदार लतीफे, चुटकले    Thu Dec 30, 2010 9:15 am

बेटा " पापा जैसे आप मुझे मारते हो क्या आपके पापा भी आपको वैसे ही मारते थे ?"

बाप " बिलकुल मारते थे "

बेटा " और दादा जी के पापा भी दादाजी को ऐसे ही मारते थे ?"

बाप " बिलकुल ऐसे ही मारते होंगे "

बेटा " तो फिर ये खानदानी गुंडागर्दी कब ख़त्म होगी ?"
Back to top Go down
pankaj bedrdi
प्रबन्धक
प्रबन्धक
avatar

Posts : 121
Thanks : 11
Join date : 28.12.2010
Age : 27
Location : siwan&chapra

PostSubject: Re: मजेदार लतीफे, चुटकले    Thu Dec 30, 2010 9:16 am

सास ( दामाद से ) " बेटा तुम हर साल मेरी बेटी को एक बच्चे की मां बना देतो हो, ये कोई ठीक बात नहीं है "

दामाद (सास से ) " मम्मी जी मैंने जो आपसे प्रोमिस किया था उसी को निभा रहा हूँ "

सास " कैसा प्रोमिस ?"

दामाद " यही कि आपकी बेटी को कभी भी खाली पेट नहीं रखूंगा "
Back to top Go down
pankaj bedrdi
प्रबन्धक
प्रबन्धक
avatar

Posts : 121
Thanks : 11
Join date : 28.12.2010
Age : 27
Location : siwan&chapra

PostSubject: Re: मजेदार लतीफे, चुटकले    Thu Dec 30, 2010 9:17 am

वकील "आखिर मैंने तुम्हे पचास हजार रूपये के लिए किसी का क़त्ल करने के जुर्म से बाइज्जत बरी करा दिया "

खूनी " वकील साहब आपका बहुत बहुत धन्यबाद "

वकील " अब मेरी फीस तो दे दो ७५ हजार रूपये "

खूनी " भूल गये क्या मैंने पचास हजार रूपये के लिए किसी का खून कर दिया था ?"
Back to top Go down
pankaj bedrdi
प्रबन्धक
प्रबन्धक
avatar

Posts : 121
Thanks : 11
Join date : 28.12.2010
Age : 27
Location : siwan&chapra

PostSubject: Re: मजेदार लतीफे, चुटकले    Thu Dec 30, 2010 9:18 am

गाँधीजी और मल्लिका
गाँधीजी और मल्लिका में समानता ?
दोनों ने कपड़े त्याग दिए
एक ने देश के लिए
दूसरे ने देशवासियों के लिए
Back to top Go down
pankaj bedrdi
प्रबन्धक
प्रबन्धक
avatar

Posts : 121
Thanks : 11
Join date : 28.12.2010
Age : 27
Location : siwan&chapra

PostSubject: Re: मजेदार लतीफे, चुटकले    Thu Dec 30, 2010 9:18 am

चमन भाई को पता चला की उसके एकाउंटेंट ने उसे ५० करोड़ का चुना लगाया है.

एकाउंटेंट गूंगा और बहरा था. उसे नौकरी पर इसलिये लगाया था की बहरा होने के कारण कभी कोई राज़ की बात सुन नहीं सकेगा, और गूंगा होने के कारण कभी कोर्ट में उसके खिलाफ गवाही नहीं दे सकेगा.

चमन भाई को गूंगे-बहारो के इशारो की समझ नहीं थी इसलिये पूछताछ के लिए अपने दाहिने हाथ "सटकेला" को ले गया जिसे इशारो की समझ थी.

चमन भाई ने एकाउंटेंट से पूछा "बता तुने जो मेरे ५० करोड़ उडाये है वो कहाँ छुपा रखे है?"

सटकेला ने इशारो में एकाउंटेंट से पुछा उसने पैसे कहाँ छुपाये.

एकाउंटेंट ने इशारे में कहाँ : "मैं कुछ नहीं जानता तुम किं पैसो की बात कर रहे हो"

सटकेला ने चमन भाई से कहा: "भाई बोल रहा वो कुछ नहीं जानता हम किं पैसो की बात कर रहे है."

चमन भाई को गुस्सा आ गया और पिस्तौल एकाउंटेंट की कनपट्टी पर रखकर बोला "अब फिर पूछ!"

सटकेला ने इशारों में एकाउंटेंट को कहा: "तुने अगर नहीं बताया और भाई ने घोडा दबा दिया तो समझ ले तेरी वाट लग जायेगी!"

एकाउंटेंट ने डरकर इशारे किये: "अच्छा! में बताता हूँ! मैंने पैसे मेरे चचेरे भाई संतु के घर के पिछवाड़े में गाड़ दिए थे!"

चमन भाई ने पूछा: "क्या बोलता है सटकेला?"

सटकेला ने जवाब दिया: "भाई... बोलता है... की आपमें हिम्मत नहीं की उसे गोली मार सके!!"
Back to top Go down
pankaj bedrdi
प्रबन्धक
प्रबन्धक
avatar

Posts : 121
Thanks : 11
Join date : 28.12.2010
Age : 27
Location : siwan&chapra

PostSubject: Re: मजेदार लतीफे, चुटकले    Thu Dec 30, 2010 9:20 am


Default रोबोट
एक दिन राजू के पापा एक रोबोट ले कर आये.

वह रोबोट झूठ पकड़ सकता था और झूठ बोलने वाले को गाल पर खीँच कर चांटा मार देता था.

आज राजू स्कूल से घर देर से आया था... पापा ने पूछा "घर लौटने में देर क्यो हो गयी?"

"आज हमारी एक्स्ट्रा क्लासेस थी" राजू ने जवाब दिया...

रोबोट अचानक अपनी जगह से उछला और जमकर राजू के गाल पर चांटा मार दिया.

पापा हंसकर बोले, "ये रोबोट हर झूठ को पकड़ सकता है और झूठ बोलने वाले को चांटा भी मारता है. अब सच क्या है यह बताओ... कहाँ गए थे?"

"में फिल्म देखने गया था" राजू बोला

"कौन सी फिल्म?" पापा ने कड़ककर पूछा

"हनुमान"
चटाक... अभी राजू की बात पूरी भी नहीं हुई थी की उसके गाल पर रोबोट ने एक जोर का चांटा मारा.

"कौन सी फिल्म?" पापा ने फिर पूछा

"कातिल जवानी."

पापा ग़ुस्से में बोले "शर्म आनी चाहिए तुम्हे. जब में तुम्हारे जितना था तब ऐसी हरकत नहीं किया करता था."

चटाक... रोबोट ने एक चांटा मारा... इस बार पापा के गाल पर.

यह सुनते ही मम्मी किचन में से आते हुए बोली "आख़िर तुम्हारा बेटा है ना... झूठ तो बोलेगा ही"

अब मम्मी की बारी थी... चटाक...
Back to top Go down
pankaj bedrdi
प्रबन्धक
प्रबन्धक
avatar

Posts : 121
Thanks : 11
Join date : 28.12.2010
Age : 27
Location : siwan&chapra

PostSubject: Re: मजेदार लतीफे, चुटकले    Thu Dec 30, 2010 9:20 am

लड़का: चलो किसी वीरान जगह चलते हैं!
लडकी: तुम ऐसी-वैसी हरकत तो नही करोगे?
लड़का: बिल्कुल नही!
लडकी: तो फिर रहने दो...

Back to top Go down
pankaj bedrdi
प्रबन्धक
प्रबन्धक
avatar

Posts : 121
Thanks : 11
Join date : 28.12.2010
Age : 27
Location : siwan&chapra

PostSubject: Re: मजेदार लतीफे, चुटकले    Thu Dec 30, 2010 9:21 am

रावण को अदालत में गीता पर हाथ रखना को कहा गया. उसने मना कर दिया
बोला: सीता पर हाथ रख कर इतनी मुसीबत आयी! अब गीता... नहीं...
Back to top Go down
pankaj bedrdi
प्रबन्धक
प्रबन्धक
avatar

Posts : 121
Thanks : 11
Join date : 28.12.2010
Age : 27
Location : siwan&chapra

PostSubject: Re: मजेदार लतीफे, चुटकले    Thu Dec 30, 2010 9:23 am

अगर आप बस पे चढे...
या फिर बस आप पे चढे...
दोनो मर्तबा टिकिट आपका ही काटता है


एक औरत दुसरी से: जब तेरा तलाक हुवा था तब तो एक ही बच्चा था
और अब ३ कैसे?
दुसरी बोली: वो कभी कभी माफ़ी मँगाने आ जाते थे...
Back to top Go down
pankaj bedrdi
प्रबन्धक
प्रबन्धक
avatar

Posts : 121
Thanks : 11
Join date : 28.12.2010
Age : 27
Location : siwan&chapra

PostSubject: Re: मजेदार लतीफे, चुटकले    Thu Dec 30, 2010 9:25 am

तुम्हारी गर्ल फ्रेंड का एसएमएस मिला है,
कहती है कोई पत्थर से ना मारे मेरे दीवाना को,
इक्कीसवी सदी है बम से उड़ा दो साले को.
Back to top Go down
pankaj bedrdi
प्रबन्धक
प्रबन्धक
avatar

Posts : 121
Thanks : 11
Join date : 28.12.2010
Age : 27
Location : siwan&chapra

PostSubject: Re: मजेदार लतीफे, चुटकले    Thu Dec 30, 2010 9:26 am

एक महल बनाने के लिए हज़ारो मजदूर लगते है...
लाखो सैनिक देश की रक्षा के लिए,
पर सिर्फ एक औरत घर को खुशहाल बनाने के लिए!
आईये धन्यवाद दे... कामवाली को
Back to top Go down
pankaj bedrdi
प्रबन्धक
प्रबन्धक
avatar

Posts : 121
Thanks : 11
Join date : 28.12.2010
Age : 27
Location : siwan&chapra

PostSubject: Re: मजेदार लतीफे, चुटकले    Thu Dec 30, 2010 9:27 am

लड़का: तुम गाना बहुत अच्छा गाती हो.
लडकी: नहीं, में तो सिर्फ बाथरूम सिंगर हूँ.
लड़का: तो बुलाओ ना कभी, महफिल जमाते हैं
Back to top Go down
pankaj bedrdi
प्रबन्धक
प्रबन्धक
avatar

Posts : 121
Thanks : 11
Join date : 28.12.2010
Age : 27
Location : siwan&chapra

PostSubject: Re: मजेदार लतीफे, चुटकले    Thu Dec 30, 2010 9:29 am

बॉस ग़ुस्से में: तुमने कभी उल्लू देखा है?
कर्मचारी (सर झुकाते हुए): नहीं सर .
बॉस: नीचे क्या देख रहे हो ? मेरी तरफ देखो.
Back to top Go down
pankaj bedrdi
प्रबन्धक
प्रबन्धक
avatar

Posts : 121
Thanks : 11
Join date : 28.12.2010
Age : 27
Location : siwan&chapra

PostSubject: Re: मजेदार लतीफे, चुटकले    Thu Dec 30, 2010 9:30 am

वो बोले "महफिल में कहीँ हमारे जूते खो गए अब हम घर कैसे जायेगे",
हमने कहा "आप शायरी शुरू कर दीजिए इतने आयेगे की फिर गिन नही पायेंगे"


एक नया जोड़ा शादी के बाद आशीर्वाद लेने के लिए नेता के पास गया.
नेता बोला "हम आशीर्वाद नही देते... सिर्फ उदघाटन ही करते हैं"
Back to top Go down
pankaj bedrdi
प्रबन्धक
प्रबन्धक
avatar

Posts : 121
Thanks : 11
Join date : 28.12.2010
Age : 27
Location : siwan&chapra

PostSubject: Re: मजेदार लतीफे, चुटकले    Thu Dec 30, 2010 9:31 am


टैक्सी ड्राइवर मारवाड़ी पस्सेंजर से : "सर गाडी के ब्रेक फेल हो गए है अब क्या करु.?"
मारवाड़ी : "हरामखोर, पहले मीटर बंद कर...
Back to top Go down
pankaj bedrdi
प्रबन्धक
प्रबन्धक
avatar

Posts : 121
Thanks : 11
Join date : 28.12.2010
Age : 27
Location : siwan&chapra

PostSubject: Re: मजेदार लतीफे, चुटकले    Thu Dec 30, 2010 3:00 pm

मरीज के दोनो हाथों का गंभीर ऑपरेशन करने के बाद डाक्टर मरीज से मिलने आये तो मरीज ने पुछा
क्या मैं ठीक होने के बाद गिटार बजा सकता हूँ डाक्टक साहब?
डाक्टर: क्यों नही जरुर बजा सकते हैं
मरीज: अच्छा मुझे पहले गिटार बजाना नही आता था.
Back to top Go down
Sponsored content




PostSubject: Re: मजेदार लतीफे, चुटकले    

Back to top Go down
 

मजेदार लतीफे, चुटकले

View previous topic View next topic Back to top 
Page 2 of 4Go to page : Previous  1, 2, 3, 4  Next

Permissions in this forum:You cannot reply to topics in this forum
Khan Hindi Forum :: हिंदी फोरम (Hindi Forum) :: महफ़िल मित्रा दी-
Jump to: